HomeLifestyle

Awale Ka Murabba Kaise Banaye आंवले का मुरब्बा कैसे बनाएं

Like Tweet Pin it Share Share Email

ये तो आप पहले से ही जानते है कि आंवला एक गुणकारी फल है जिसके मुरब्बे के फायदे भी कई होते है आंवले  के अंदर आयरन और विटामिन C भरपुर मात्रा में पाया जाता है और साथ ही यह बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट भी होता है यह सर्दी के मौसम में बाजार में ज्यादा बिकता है|

तो आज हम आपको बतायेंगे कि आंवले का मुरब्बा बनाते है –

Awale Ka Murabba Kaise Banaye, आंवले का मुरब्बा कैसे बनाएं , आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि हिंदी में, आंवले का मुरब्बा बनाने की रेसिपी, आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि बताये, आंवला का मुरब्बा बनाना, आंवले का अचार बनाने की विधी, आंवले का अचार बनाने का तरीका, आंवले का मुरब्बा खाने के फायदे, आंवले का मुरब्बा कैसे बनाया जाता है, आंवले का मुरब्बा कैसे बनाते हैं, awale ka murabba kaise banta hai, kaise banaye amla ka murabba, how to make amla ka murabba, amla ka murabba ki recipe, amla ka murabba kaise banaye in hindi, आंवले का मुरब्बा कैसे बनाये, आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि, आंवला का मुरब्बा बनाने की विधि, murabba kaise banaye, आंवले का मुरब्बा, प्याज का मुरब्बा कैसे बनाये, awale ka murabba, आंवले का मुरब्बा कैसे बनाएं, awale ka murabba kaise banaye, मुरब्बा बनाने की विधि, आंवले के मुरब्बे के फायदेआंवले के मुरब्बे की आवश्यक सामग्री

आंवला – 1 किग्रा.

चीनी – 1.5 किग्रा

इलाइची – 8-10 ( छील कर पीस लें )

केसर – आधा छोटी चम्मच

काली मिर्च -आधा छोटी चम्मच

काला नमक – 1 छोटी चम्मच

फिटकरी आधा चम्मच

प्रथम विधि :-

आंवले का मुरब्बा बनाने के लिए सबसे अच्छा होगा अगर आप पके हुए आंवले ले |

अब आंवले को 2-3 दिन तक पानी में भिगो दीजिये |

अब आंवले को पानी से बाहर निकाल ले और किसी नुकीली चीज़ जैसे कांटे से गोद ले |

अब आंवले को फिटकरी के पानी में डालकर दो दिन तक भीगने दे |

२ दिन के बाद उनको पानी से निकाल ले और अच्छी तरह से धोये |

अब एक बड़े बर्तन में पानी गरम करें |

फिटकरी के पानी से निकालकर आंवले को खोलते हुए पानी में डाल दीजिये और 2-3 मिनट तक पकने दे |

अब गैस बंद कर के आंवलो को 1५ मिनट तक ढककर रख दे |

अब चलनी की सहायता से उसका पानी निकल दीजिये और आंवलो को निकाल ले |

अब आप स्टील के बर्तन में चाशनी बनाइये और आंवलो को चाशनी में डालकर पकाइये जब तक आंवले अच्छी तरह से गल न जाये और चाशनी गाढ़ी ना हो जाये, अब मुरब्बो को ठंडा होने दीजिये |

और 1-2 दिन बाद दुबारा मुरब्बो को चेक करिये अगर उसमे चाशनी पतली है तो उसको दुबारा पकाइये जब तक चाशनी गाढ़ी ना हो जाये |

उसके बाद उसे ठंडा होने के लिए रख दीजिये ठंडा होने के बाद उसमे इलाइची, काली मिर्च, काला नमक और केसर डाल कर मिला दीजिये |

अब आपका आंवले का मुरब्बा तैयार है !!!

दूसरी विधि :-

उबाले हुये आंवले को किसी बड़े बर्तन में डालकर चीनी ऊपर से डालकर भर कर ढक रख दीजिये.  4-5 घंटे बाद आंवले का जूस निकल कर चीनी को घोलकर चाशनी बनाने लगता है, और अब हम उसी चाशनी में आंवले को पका कर मुरब्बा बना लें.

आंवले का मुरब्बा तैयार है, आंवले का मुरब्बा यदि अच्छी तरह पक गया है तब यह मुरब्बा 2 साल तक भी खराब होने वाला नहीं है, कांच के सूखे कन्टेनर में ये मुरब्बा भरकर रख लीजिये और जब भी आपका मन हो कन्टेनर से मुरब्बा निकालिये और खाइये.

सावधानी

पानी में आंवले देर तक न पकायें, वे टूट जायेंगे.

आंवले की चाशनी को अच्छी तरह पका लीजिये नहीं तो मुरब्बा जल्दी खराब हो सकता है, यदि कभी चाशनी पतली हो रही हो तो आप फिर से पका कर भी गाढी कर सकते हैं.

आंवले को फोर्क की सहायता से अच्छी तरह गोद लीजिये, मुरब्बा नरम बनेगा और चाशनी भी जल्दी ही उसके अन्दर चली जायेगी.

loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 3 =