HomeEssay

Adverb in Hindi : क्रिया विशेषण के भेद & उदाहरण

Like Tweet Pin it Share Share Email

What is Adverb in Hindi?

An adverb is a word that modifies a verb, adjective, another adverb, determiner, noun phrase, clause, or sentence.

क्रिया विशेषण क्या है? Adverb Kya Hai

जिन शब्दों से क्रिया की विशेषता का पता चलता है उन्हें क्रियाविशेषण कहते हैं। जैसे – वह धीरे-धीरे चलता है। इस वाक्य में चलता क्रिया है और धीरे-धीरे उसकी विशेषता।

“जो शब्द क्रिया की विशेषता बतलाये ,उसे क्रिया विशेषण कहते है ।”

जैसे – १.खरगोश तेज दौड़ता है। २.पिता जी बाहर घूमने जा रहे है। ३.धीरे धीरे मेरा उससे परिचय हुआ । ४.मेज के ऊपर पुस्तक रखी हुई है।

क्रिया-विशेषण के निम्नलिखित चार भेद हैं-

1. कालवाचक क्रिया-विशेषण।
2. स्थानवाचक क्रिया-विशेषण।
3. परिमाणवाचक क्रिया-विशेषण।
4. रीतिवाचक क्रिया-विशेषण।स्थानवाचक

1-  कालवाचक

जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के होने का समय बतलाते हैं, उन्हें कालवाचक क्रियाविशेषण कहते हैं।

जैसे- आज, कल, परसों, पहले, पीछे, अभी, कभी, सदा, अब तक, अभी-अभी, बार-बार, प्रतिदिन आदि।

2- स्थानवाचक

जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के व्यापार-स्थान का बोध कराते हैं, उन्हें स्थानवाचक क्रियाविशेषण कहते हैं।

जैसे- यहाँ, वहाँ, कहाँ, जहाँ, तहाँ, सामने, नीचे, ऊपर, आगे, भीतर, बाहर आदि।

उदाहरण- कनिका यहाँ चल रही है। इस वाक्य में “यहाँ” चल क्रिया के व्यापार-स्थान का बोध करा रही है।

3- परिमाणवाचक

जो अविकारी शब्द किसी क्रिया के परिमाण अथवा निश्चित संख्या का बोध कराते हैं, उन्हें परिमाणवाचक क्रियाविशेषण कहते हैं।

जैसे- बहुत, अधिक, पूर्णतया, सर्वथा, कुछ, थोड़ा, काफ़ी, केवल, यथेष्ट, इतना, उतना, कितना, थोड़ा-थोड़ा, तिल-तिल, एक-एक करके, आदि।

4- रीतिवाचक

जो अविकारी शब्द किसी क्रिया की रीति का बोध कराते हैं, उन्हें रीतिवाचक क्रियाविशेषण कहते हैं।

जैसे- सचमुच, ठीक, अवश्य, कदाचित्, यथासम्भव, ऐसे, वैसे, सहसा, तेज़, सच, अत:, इसलिए, क्योंकि, नहीं, मत, कदापि, तो, हो, मात्र, भर आदि।

loading...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − eleven =